हवाई अड्डे की सड़क का औचक निरक्षण

विजिलेंस ब्यूरो पंजाब
विजिलेंस ब्यूरो ने एस.ए.एस. नगर के हवाई अड्डो की सडक़ का किया औचक निरीक्षण
(सडक़ के निर्माण में इस्तेमाल की गई घटिया सामग्री करती है अनियमितताओं की पुष्टि- बी.के. उप्पल)
(सीनियर निर्माण इंजनियरों और केंद्रीय एजेंसी के विशेषज्ञों ने 200 फुट सडक़ के नमूने लिए)

हवाई अड्डे की सड़क का औचक निरक्षण September 20, 2017

चण्डीगढ़,  पंजाब विजिलेंस ब्यूरो की टीमों ने आज सडक़ निर्माण इंजीनियरों सहित एस.ए.एस. नगर में हवाई अड्डे को जोड़ती बेहद खऱाब हालत वाली सडक़ की अचानक चैकिंग की और यह पाया कि 200 फुट सडक़ के निर्माण दौरान निर्धारित मानकों और सामग्री का प्रयोग नहीं किया गया।

इस संबंधी जानकारी देते हुये आज विजिलेंस ब्यूरो के एक प्रवक्ता ने बताया कि हवाई अड्डे को जाती हाल ही में बनी इस सडक़ की बदहाली संबंधी मिलीं शिकायतों के आधार पर विजिलेंस ब्यूरो के मुख्य डायरैक्टर बी.के. उप्पल, ए.डी.जी.पी ने लोक निर्माण भवन, गमाडा, विजिलेंस की तकनीकी टीम और केंद्रीय सडक़ अनुसंधान संस्थान (सी.आर.आर.आई) के सीनियर आधिकारियों के साथ मुआयना किया जिस दौरान सडक़ की सैंपलिंग के लिए जे.सी.बी मशीनों के द्धारा सडक़ पर दो स्थानों पर खुदाई की और एक जगह पर नमूना मशीन की मदद के साथ विशेष जांच की गई। इस विशेष मुआयने दौरान यह सामने आया कि इस सडक़ को मौजूदा ज़मीन और भारी यातायात के मुताबिक डिज़ाइन नहीं किया गया, घटिया या कम मानक निर्माण सामग्री इस्तेमाल के इलावा डी.पी.आर. के साथ-साथ ठेके में दर्ज गुणवत्ता की अनदेखी पाई गई।

विजिलेंस प्रमुख ने कहा कि सी.आर.आर.आई की अंतिम रिपोर्ट के आधार पर इस सडक़ के घटिया निर्माण के लिए दोषी पाये गए अफसरों और ठेकेदारों विरुद्ध कार्यवाही की जायेगी। जि़क्रयोग्य है कि ताज़ा नमूनों के लिए सडक़ की खुदाई करने के बाद मौके पर मौजूद सीनियर सडक़ निर्माण इंजीनियरों ने यह पुष्टि की है कि इस सडक़ के निर्माण में कई अनियमिततांए इस्तेमाल की गई हैं जिसके कारण थोड़े समय में ही सडक़ को नुक्सान पहुंचा है।

——————————————————————————————————

Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

Leave a Reply