EXCLUSIVE: राम रहीम का मनीट्रेल

गुरमीत राम रहीम का काला कारोबार पर एंजेसियां हुई सख्त
बाबा का सबसे बड़ा राज़दार शख्स है राममूर्ति

EXCLUSIVE: राम रहीम का मनीट्रेल October 7, 2017

एंजेसियों को गुरमीत राम रहीम के काले धन की भनक लग चुकी है…यूं तो डेरे के पास करोड़ो रूपये का धन चंदे के रूप में पहुंचता था…और नियमों के अनुसार इन्हे किसी भी कमर्शियल वेंचर या कारोबार में नहीं लगाया जा सकता था…लेकिन गुरमीत और उनके साथियों ने 15 फर्जी कंपनियां खड़ी कर इस काले धन को…सफेद करने का गोरखधंधा बड़ी ही आसानी से किया…इन फर्जी कंपनियों के जरिए काले धन को होटल, रिसार्ट, रियल एस्टेट, अखबार , टीवी, फिल्म में लगा कर ढेर सारा मुनाफा कमाया गया, वो भी काले धन को सफेद कर…

 

अभी तक एंजेसियों को 51 करोड़ रूपये का मनीट्रेल पंद्रह गोस्ट कंपनियों में मिला है…एंजेसियों को ये भी पता चला है कि गुरमीत राम रहीम और उसके सीथियों ने एआरजेड नाम की कंपनी बना कर उसमें काले धन को जमा कर करोबार किया…एआरजेड कंपनी में वो शख्स डायरेक्टर है जो गुरमीत राम रहीम का सारा कारोबार देखता है और अभी तक एंजेसियों के हत्थे नहीं चढ़ा है…उसका नाम है राममूर्ति….

राममूर्ति चंडीगढ़ के साथ लगते कस्बे खरड़ का रहने वाला है और ये गुरमीत राम रहीम के काले कारोबार का राज़दार है…राममूर्ति और गुरमीत ने बहुत पहले पॉश रियल्टी प्रा.लिमेटिड नाम की एक कंपनी खड़ी की थी…

दूसरी कंपनी एआरजेड में राममूर्ति के साथ दूसरे पार्टनर मनीष बंसल पर एंजेसियों की पैनी निगाहें है…एंजेसियों को जानकारी हासिल हुई है कि मनीष बंसल ने तकरीबन 32 करोड़ का हेर फेर किया है…एंजेसियों को ये भी मालूम पड़ा है कि गुरमीत राम रहीम की फिल्मों में लगे पैसे की ट्रांजेक्शन इसी कंपनी के खाते से की गई…

अभी तक ये कहा जा रहा था कि गुरमीत के बाद हनीप्रीत, विपासना, आदित्य इसां सबसे रसूखदार शख्स है जो डेरे की कमान संभालते थे लेकिन हकीकत ये है कि राममूर्ति इन सब पर सबसे भारी है…राममूर्ति ने चंडीगढ़ , पंचकूला, मोहाली सहित देश में दूसरी जगहों पर भी रियल एस्टेट में करोड़ो का धन खपा रखा है…

शुरूआती जांच में ये भी पता चला है कि डेरे का माऊथ पीस कहे जाना वाला अख़बार ‘सच कहूं’ में भी इन्ही कंपनियों के जरिए पैसे लगाए गए…फिलहाल कारेसपोंडेंट की टीम को पता चला है कि राममूर्ति अंडरग्राऊंड है और हर दिन इस मसले पर कानूनी सलाह लेता फिर रहा है…इसके अलावा एंजेसियों की उन लोगों पर भी नजर है जिन्होने ने राममूर्ति के साथ जमीनों की खरीद फरोख्त को अंजाम दिया है…

इनकम टैक्स और ईडी को ये भी पता चला है कि तीसरी कंपनी ‘समग इंटरप्राइजेज’ के जरिए डेरे के ढेर सारे काले धन को खपाया गया है…फिलहाल तहकीकात गुपचुप तरीके से जारी है…

Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn

Leave a Reply